Connect with us

गया

पिंडदान-तर्पण करने करने वालों को तिथि के हिसाब से करना होगा कर्मकांड, यहां देखे तिथियां

Published

on

AJAYA BHARAT DESK : बिहार के गया में पंद्रह दिनों का पितृपक्ष मेला शरू हो गया। आश्विन कृष्ण प्रतिपदा से लेकर अमावस्या तक पंद्रह दिन पितृपक्ष के नाम से विख्यात है। इन पंद्रह दिनों में लोग अपने पूर्वजों को जल देते हैं और श्राद्ध करते हैं। इन 15 दिनों में पितरों का श्राद्ध किया जाता है और उनका आशीर्वाद लिया जाता है। इस बार 14 सितंबर से 28 सितंबर तक पितृपक्ष रहेगा. 14 सितंबर को पूर्णिमा प्रातः 09:03 तक है, इसके बाद प्रतिपदा श्राद्ध ,महालयारम्भ, पितृपक्षारम्भ शुरू जायेगा।

इस बार पितृपक्ष मेले की खास बात यह है कि जहां एक तिथि आश्विन कृष्ण पक्ष द्वितीया दो दिन है, तो कई तिथियां एक ही दिन गुजरेंगी, इसकी वजह से पिंडदान और तर्पण करने आये लोगों को तिथि के हिसाब से कर्मकांड करना होगा। 17 दिवसीय श्राद्ध 12 सितंबर से शुरू हो गया है। श्राद्ध विधान में श्राद्ध की तिथि मध्याह्न काल में व अपराह्न काल में तिथि रहने पर ही श्राद्ध किया जाता है।

आइए एक नजर डालते हैं तिथिवार कर्मकांड पर –

12 सितंबर गुरुवार- अनंत चतुर्दशी श्राद्ध- पुनपुन तीर्थ में या गोदावरी गया में ।
13 सितंबर शुक्रवार- भाद्रपद पूर्णिमा श्राद्ध- फल्गु तट पर ।
14 सितंबर शनिवार- आश्विन कृष्ण प्रतिपदा श्राद्ध- ब्रह्मकुंड, प्रेतशिला, रामकुंड रामशिला और काकबलि ।
15 सितंबर रविवार- आश्विन कृष्ण द्वितीया श्राद्ध साढ़े दस बजे से- उत्तरमानस उदिचि कनखल और दक्षिण मानस वेदी ।
16 सितंबर सोमवार- आश्विन कृष्ण द्वितीया श्राद्ध दिन 12 बजे तक- जिह्वालोल और गदाधर विष्णु दर्शन ।
17 सितंबर- मंगलवार- आश्विन कृष्ण तृतीया श्राद्ध- सरस्वती तीर्थ मतंगवापी धर्मारण्य और बोधगया ।
18 सितंबर बुधवार- आश्विन कृष्ण चतुर्थी श्राद्ध- ब्रह्म सरोवर काकबलि, तारक ब्रह्म दर्शन और आम्र सिंचन वेदी ।
19 सितंबर गुरुवार- आश्विन कृष्ण पंचमी श्राद्ध- विष्णुपद वेदी, रुद्रपदवेदी और ब्रह्मपद वेदी ।
20 सितंबर शुक्रवार- आश्विन कृष्ण षष्ठी श्राद्ध- सोलह वेदी में कार्तिक पद, दक्षिणाग्नि पद, गार्हपत्याग्निपद आहवनीयाग्नि पद और सूर्य पद वेदी ।
21 सितंबर शनिवार- आश्विन कृष्ण सप्तमी श्राद्ध- चंद्रपद गणेशपद सम्याग्नि पद आवसथ्याग्नि पद दधीचि पद और कण्वपद वेदी ।
22 सितंबर रविवार- आश्विन कृष्ण अष्टमी श्राद्ध दिन 2/23 बजे तक- मतंगपद क्रौंच पद इंद्रपद, अगस्तय पद, कश्यप पद और गजकर्ण पद वेदी ।
23 सितंबर सोमवार- आश्विन कृष्ण नवमी और दशमी श्राद्ध- क- राम गया और सीता कुंड वेदी,ख- गयाशिर और गया कूप वेदी ।
24 सितंबर मंगलवार- आश्विन कृष्ण दशमी/ एकादशी तिथि 11/24 बजे से एकादशी श्राद्ध- मुंड पृष्ठा आदि गदाधर और धौतपद वेदी ।
25- सितंबर बुधवार- आश्विन कृष्ण एकादशी/द्वादशी तिथि द्वादशी श्राद्ध- भीम गया, जर्नादन विष्णु और मंगला गौरी दर्शन, गो प्रचार वेदी और गदालोल वेदी ।
26 सितंबर गुरुवार- आश्विन कृष्ण त्रयोदशी श्राद्ध- फल्गु तट पर दूध तर्पण और सायं काल में दीप दान ।
27 सितंबर शुक्रवार- आश्विन कृष्ण चतुर्दशी श्राद्ध- वैतरणी तर्पण और गोदान ।
28 सितंबर शनिवार- आश्विन कृष्ण अमावस्या श्राद्ध- अक्षयवट श्राद्ध और सुफल ।
29 सितंबर रविवार-आश्विन शुक्ल प्रतिपदा तिथि का श्राद्ध- गायत्री घाट श्राद्ध और आचार्य दक्षिणा ।

पितृ पक्ष के दौरान दिवंगत पूर्वजों की आत्‍मा की शांति के लिए श्राद्ध किया जाता है। मान्‍यता है कि अगर पितर नाराज हो जाएं तो व्‍यक्ति का जीवन भी खुशहाल नहीं रहता और उसे कई तरह की समस्‍याओं का सामना करना पड़ता है। यही नहीं घर में अशांति फैलती है और व्‍यापार व गृहस्‍थी में भी हानि झेलनी पड़ती है। ऐसे में पितरों को तृप्‍त करना और उनकी आत्‍मा की शांति के लिए पितृ पक्ष में श्राद्ध करना जरूरी माना जाता है।श्राद्ध के जरिए पितरों की तृप्ति के लिए भोजन पहुंचाया जाता है और पिंड दान और तर्पण कर उनकी आत्‍मा की शांति की कामना की जाती है।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Breaking News

CSP संचालक को अपराधियों ने बनाया निशाना, 2 लाख रूपया लूटकर मारी गोली

Published

on

GAYA :  एक बार फिर से अपराधियों ने सीएसपी संचालक को अपना निशाना बनाया है। जिले के डोभी के पीपरघट्टी में पंजाब नेशनल बैंक के सीएसपी संचालक नीरज कुमार मिश्रा से चार अपराधियो ने हथियार के बल पर 2 लाख रूपया लूट लिया और विरोध करने पर गोली मार दी। यह गोली सीएसपी संचालक नीरज के पैर में लगी है। डोभी थाना क्षेत्र जीटी रोड स्थित नहर के पास उस समय हुई जब वह डोभी के पीएनबी मेन ब्रांच से डेढ़ लाख रूपया निकालकर संचालक अपनी बाइक से पीपरघट्टी स्थित सीएसपी जा रहा था। घायल सीएसपी संचालक के ने बताया कि जीटी रोड नहर के पास बाइक सवार चार अपराधी पहले उसे रोक लिया और फिर 2 लाख नगदी समेत अन्य कागजात हथियार दिखाकर लूट लिए। घायल सीएसपी संचालक ने लूट की इस घटना के दौरान वहां रखे लकड़ी से वार करने की कोशिश की तो उन अपराधियों ने हथियार के बट से सिर में मारकर घायल कर दिया और फिर गोली चला दी।

नीरज ने बचाव किया जिसकी वजह से गोली उसके शरीर के बजाय जांघ के पास लगी। गोली मारने के बाद सभी अपराधी फरार हो गये। घायल नीरज ने अपने मोबाइल से परिजन को फोन किया जिसके बाद वे लोग वहां पहुंचे और डोभी पीएचसी ले गये जहां से डॉक्टरों ने उन्हें एएऩएमसीएच रेफर कर दिया है। अभी घायल नीरज का का इलाज एएनएमसीएच के आईसीयू में चल रहा है। घटना की सुचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच मामले की जांच में जुटी है।

Continue Reading

Breaking News

कर्मनाशा नदी पर क्षतिग्रस्त पुल का निरीक्षण, 5 दिनों के बाद पहुंची टीम

Published

on

KAIMUR: सेंट्रल रोड रिसर्च इन्वेस्टिगेशन की 2 सदस्यीय टीम 5 दिनों के बाद यूपी बिहार बॉर्डर में कर्मनाशा नदी पर बने ओवरब्रिज का निरीक्षण करने पहुंची | इस दौरान जाँच टीम ने माना कि पुल के पाया के दोनों पिलर में सरिया की कमी देखी जा रही हैं | टीम के अधिकारियों ने कहा कि अभी जाँच की जा रही है | ओवरलोडिंग सहित कई कारण भी पुल टूटने के हो सकते हैं, जिसकी अभी जांच की जा रही हैं | उन्होंने मीडिया को बताया कि जांच के बाद एनएचआई को रिपोर्ट सौंपी जाएगी उसके बाद आगे की कार्रवाई होगी |

Continue Reading

Breaking News

ड्राइवर की सतर्कता से रेल हादसा टला, टूटी पटरी को देख लगाई एमरजेंसी ब्रेक

Published

on

NAWADA: नवादा रेलवे स्टेशन पर आज पैसेंजर ट्रेन के ड्राइवर की सतर्कता से बड़ा हादसा होते होते टला | खबर के मुताबिक गया-क्यूल रेलवे लाइन पर 53627 किउल-गया ट्रेन नवादा स्टेशन से गया जा रही थी | तभी ड्राइवर की नजर टूटी हुई रेल पटरी पर गई और ड्राइवर ने एमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन रोक दी | ट्रेन रोकने के बाद ड्राइवर ने इस बात की सूचना अपने अधिकारियों की दी जिसके बाद रेल पटरी के मरम्मत का काम शुरू किया गया |

Continue Reading

Trending

Copyright © 2019 All Rights Reserved to Ajaya Media and Telecommunication Pvt. Ltd.