Connect with us

झारखंड

देढ़ दशक से बिना टिकट यात्रा को मजबूर, मूलभूत सुविधाओं का घोर अभाव

Published

on

LATEHAR:  लातेहार के चेतर से एक खबर सामने आई है जहां डेढ़ दशक से बिना टिकट के यात्रा करने को मजबूर हैं लोग। एक ऐसा स्टेशन है जहां लगभग डेढ़ दशक से लोग प्रतिदिन बिना टिकट के यात्रा करते है। लोगों के अनुसार ऐसा नहीं के लोग टिकट कटाना नहीं चाहते है, ब्लकि मजबुरी ये है के स्टेशन पर टिकट काउंटर की सुविधा नहीं है।

 

आपको बता दें कि सीआईसी सेक्शन बरकाकाना बरवाडीह रेलखंड अंतर्गत चेतर रेलवे स्टेशन पर विगत डेढ़ दशक से सैकड़ो लोग प्रतिदिन बिना टिकट के यात्रा करने को मजबूर है। ग्रामीणों के अनुसार डेढ़ दशक पूर्व तक उक्त स्टेशन पर टिकट काउंटर था और टिकट भी कटता था, लेकिन डेढ़ दशक पूर्व हुऐ कुछ उग्रवादी घटना के कारण टिकट काउंटर बंद हो गया।

 

जिसके बाद आज तक काउंटर नहीं खुला। यात्रियों और आसपास के ग्रामीणों ने बताया कि टिकट नहीं कट पाने के कारण लोग मुफ्त में यात्रा तो करते हैं लेकिन कई बार इसका खामियाज़ा भी भुगतना पड़ता है। क्योंकि चेकिंग के दौरान बिना टिकट यात्रा करने पर पकड़े जाने के बाद कोई नहीं सुनता कि चेटर स्टेशन में टिकट नहीं कटता है जिस कारण टिकट नहीं कटा सके।

 

कई बार लोगों को बिना टिकट के पकड़े जाने पर फाईन भी भरनी पड़ती है। ग्रामीणों के अनुसार चेतर स्टेशन से चेतर ओनसोन, बुल्हू, सिकनी, ब्रह्मनी, किता, बारी समेत लगभग एक दर्जन से अधिक गांव के ग्रामीण सफर करते है, लेकिन अब तक यहां किसी प्रकार की सुविधा नहीं है। दर्जनो गांव ने रेलवे से चेतर स्टेशन पर मूलभूत सुविधाएं दुरूस्त कराने की मांग की है।

 

पर अबतक उनकी पुकार नहीं सुनी गई। प्रतिदिन अप डाउन में चार-चार पैसेंजर ट्रेन का ठहराव होता है। चेतर स्टेशन के मास्टर इंद्रजीत सिंह ने बताया कि उक्त स्टेशन पर दो स्टेशन मास्टर, चार पोर्टर और 2 केविन मैन कार्यरत है। चेतर रेलवे स्टेशन पर प्रतिदिन अप में चार और डाउन में भी चार कुल 8 पैंसेजर ट्रेनों का ठहराव होता है।

 

जिसमें प्रतिदिन लगभग 150-200 लोग आवा-गमन करते है। वहीं शुक्रवार को यात्रियों की संख्या काफी ज़्यादा होती है, लेकिन स्टेशन में न टिकट काटने की व्यवस्था है और न हीं किसी प्रकार की
मूलभूत सुविधा नहीं है।

 

लातेहार से राहुल कुमार के साथ बद्री गुप्ता की रिपोर्ट

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Breaking News

उपायुक्त नैन्सी सहाय गांव के लोगों के बीच पहुंचकर कम्बल औऱ अनाज का किया वितरण

Published

on

DEOGHAR : उपायुक्त नैन्सी सहाय गांव मे रह रहे अंतिम व्यक्ति के लोगों के बीच दुख दर्द की जानकारी लेने पहुंची। आज उपायुक्त नैन्सी सहाय ने पालोजोरी प्रखण्ड के कुंजबोना पंचायत के नावाडीह गांव पहुंचे। वहां रह रहे पहाड़ियां जनजाति के लोगों से बातचीत किया  और सुविधाओं की जानकारी ली। उपायुक्त ने पहाड़ियां जनजाति के 72 परिवारों के बीच 35-35 किलो अनाज लाभुकों के घर जाकर वितरण किया। वहीं बढ़ती ठंड व शीतलहरी को देखते हुए उपायुक्त ने सभी परिवारों के बीच कम्बल का वितरण भी किया। वही ठंड के प्रति लोगों को सचेत रहकर ठंड से बचने की सलाह दी।उपायुक्त ने नावाडीह गांव के पहाड़ियां जनजाति परिवार के बच्चों से बात-चीत कर उनके बीच कॉपी-किताब व वस्तुओं का वितरण भी किया गया। उपायुक्त ने प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को चौक-चैराहों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों के सार्वजनिक स्थानों पर भी अलाव की व्यवस्था कराने का निर्देश दिया। वही ठंड से बचने के लिए जरूरतमंद लोगों के बीच कम्बल वितरित करें।

उपायुक्त नैन्सी सहाय ने कस्तूरबा गांधी बालिका उच्च विद्यालय में छात्राओं को दी जाने वाली विभिन्न सुविधाओं व व्यवस्थाओं का जानकारी ली।अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने विभिन्न कक्षाओं का निरीक्षण कर बच्चियों से बातचीत कर उन्हें दी जाने वाली व्यवस्थाओं की जानकारी ली। स्कूल प्रबंधन व संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश देते हुये कहा कि स्कूल में किसी भी स्थिति में अव्यवस्था न हो और विद्यालय का माहौल बेहतर बना रहे।उपायुक्त ने कहा कि किसी तरह की अनियमितता की शिकायत मिलने पर कठोर कार्यवाही की जायेगी।

 

 

Continue Reading

Breaking News

भाजपा में शामिल हुए बाबूलाल मरांडी, विधायक दल के होंगे नेता

Published

on

RANCHI: इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है, जहां झारखंड विकास मोर्चा के सुप्रीमो ने अपना रास्ता बदल लिया है और वे भाजपा में शामिल हो गए हैं. बाबूलाल मरांडी विधिवत तौर पर 15 जनवरी में भाजपा में शामिल होंगे. इस दौरान कार्यक्रम में केंद्र के कई बड़े नेता शामिल होंगे दो बाबूलाल को पार्टी की सदस्यता दिलाएंगे. सूत्रों की मानें तो बाबूलाल मरांडी भाजपा के विधायक दल के नेता होंगे और नेता प्रतिपक्ष बनेंगे.

आपको बता दें कि कई दिनों से बाबूलाल की भाजपा में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे थे. साथ ही चुनाव परिणाम आने के बाद बाबूलाल ने बिना की शर्त के जेएमएम को अपना सपोर्ट देने की बात कही थी. लेकिन अब सारी स्थिति साफ हो गई है.

 

Continue Reading

Breaking News

पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के आरोपी ऋषिकेश देवडीकर को पुलिस ने झारखंड से किया गिरफ्तार

Published

on

BAGHMARA: पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या के आरोपी ऋषिकेश देवडीकर को बाघमारा के कतरास से गिरफ्तार किया गया. बेंगलुरु की एसआइटी ने कतरास में छापेमारी कर उसकी गिरफ्तार की. पुलिस ने उसके कमरे से सनातन धर्म की कई पुस्तक भी बरामद किया है. वह कतरास के एक पेट्रोल पंप पर पहचान छुपाकर रह रहा था. गौरी लंकेश की हत्या 5 सितंबर 2017 को बेंगलुरु में कर दी गई थी.

कर्नाटक की एसआइटी टीम ने कतरास के भगत मोहल्ले में छापेमारी कर राजेश उर्फ ऋषिकेश देवडीकर नामक युवक को हिरासत में लिया. पुलिस ने उसके कमरे की तलाशी ली तो वहां सनातन धर्म की कई पुस्तक सहित सामान बरामद की. वह पिछले सात से आठ माह से खेमका पेट्रोल पंप में केयर टेकर का काम कर रहा था और भगत मोहल्ला स्थित पंप के मालिक के मकान में किराएदार के तौर पर रह रहा था.

टीम का नेतृत्व कर रहे इंस्पेक्टर पुनीत की मानें तो ऋषिकेश बेंगलुरु में हुई चार लोगों की हत्या मामले में वांटेड है, पिछले डेढ़ साल से इसकी खोज हो रही थी. कानूनी कार्रवाई से बचने के लिए वह झारखंड चला आया था. आरोपित पर सामाजिक संस्था से जुड़े चार लोगों की हत्या का मामला है. हत्या में शामिल एक दर्जन से अधिक लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है. ऋषिकेश महाराष्ट्र का निवासी बताया जाता है, जो अलग-अलग नाम से पहचान छुपाकर रह रहा था, ताकि पकड़ में नहीं आ सके.

वही आरोपी ऋषिकेश के पड़ोसियों का कहना है कि सात-आठ महीने से वह यहां रह रहा था. किसी से वैसा कोई मेलमिलाप नहीं था,आता था और फिर अपने काम मे निकल जाता था, कभी वैसा कोई सुभाव से लगा नही ना ही कभी कोई इस तरह की चर्चा भी हुई. फिलहाल एसआईटी टीम आरोपी ऋषिकेश को अपने साथ धनबाद ले गई हैं.

Continue Reading

Trending

Copyright © 2019 All Rights Reserved to Ajaya Media and Telecommunication Pvt. Ltd.