Connect with us

समस्तीपुर

समस्तीपुर की बहुमंजिला इमारत में लगी भीषण आग

Published

on

समस्तीपुर : शहर के स्टेशन रोड स्थित एक बहुमंजिले इमारत में भीषण आग लग गई। इस इमारत में आनन्द होटल ,रेस्ट हाउस, जूते चप्पल की रेड चीफ ब्रांड की शो रूम, मिठाईवाला स्वीट्स हाउस समेत कई प्रतिष्ठान हैं। आग लगने की जानकारी सुबह में होटल के आसपास के लोगों को तब हुई जब रेड चीफ शोरूम से आग की लपटें और तेज धुंवा निकलने लगा।

आग के विकराल रूप को देखकर आसपास में अफरातफरी मच गई। फिर रेस्टहाउस में ठहरे लोग और कर्मचारियों ने सब लोगों को सुरक्षित निकलने में मदद की। फायर ब्रिग्रेड और नगर थाना पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची टीम ने स्थानीय लोगों की मदद से शोरूम का शटर तोड़कर करीब एक घण्टे से आग पर काबू पाने की कोशिश में जुटे है, लेकिन लेदर के जूते चप्पल में आग लगने की वजह से अब तक आग पर काबू पाने में मुश्किल हो रही है।

सम्भावना जताई जा रही है कि शॉर्ट सर्किट से ही आग लगी है। इस घटना में करीब 50 लाख के सामान के नष्ट होने का अनुमान है। हालांकि किसी के जानमाल का नुकसान नहीं हुआ है। जिले के दूसरे अनुमंडल से भी फायर ब्रिगेड को बुलाया जा रहा है ताकि आग को आसपास के इमारतों में फैलने से रोका जा सके।

समस्तीपुर रमेश की रिपोर्ट

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


समस्तीपुर

समस्तीपुर में चोर को ग्रामीणों जमकर पीटा, मौके पर पहुंची पुलिस

Published

on

समस्तीपुर : अभी-अभी बड़ी खबर समस्तीपुर से आ रही है जहां अहले सुबह जिले के मथुरापुर ओपी थाना क्षेत्र के झिल्ली चौक के पास घर में चोरी करते चोर को ग्रामीणों ने रंगे हाथ पकड़ा और जमकर पिटाई करने लगे।

संयोगवश गस्ती पर निकली पुलिस को इस घटना की जानकारी मिली और चोर को भीड़ के चंगुल से छुड़ाकर समस्तीपुर सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। अगर पुलिस सही समय पर नहीं पहुंचती तो शायद फिर एक शख्स आज मॉब लिंचिंग का शिकार बनकर अपनी जान से हाथ धो देता। हालांकि बेरहमी से पिटाई की वजह से कथित चोर मोहम्मद इरशाद की हालत नाजुक बनी हुई है।

पुलिस के मुताबिक कथित चोर वारिसनगर थाना क्षेत्र के मनियारपुर का रहने वाला है। उसके पास से चोरी की एक साइकिल, 3 मोबाइल और वेज जिस घर में चोरी करते पकड़ा गया है उस घर से चोरी के सामान भी बरामद हुए है।

समस्तीपुर से रमेश शंकर की रिपोर्ट

Continue Reading

समस्तीपुर

समस्तीपुर में प्रॉपर्टी डीलर का मिला शव, इलाके में सनसनी

Published

on

समस्तीपुर : समस्तीपुर में गंडक नदी से एक प्रॉपर्टी डीलर का शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई है। घटना की सूचना मिलते ही प्रॉपर्टी डीलर मनोज झा के घर में मातम छा गया है। मनोज झा शनिवार की शाम से ही लापता थे। रविवार की सुबह नगर थाना के बहादुरपुर बांध के पास उनकी बाइक लावारिस हालत में मिली थी। तब से ही परिजनों को किसी अनहोनी की आशंका होने लगी थी। पुलिस भी उनकी तलाश में जुटी थी।

इसी बीच खानपुर थाना क्षेत्र में गंडक नदी में तैरती हुई उनकी लाश बरामद हुई है। परिजनों के मुताबिक डेडबॉडी को देखने से लग रहा था कि उनकी हत्या की गयी है लेकिन पुलिस फ़िलहाल इसे आत्महत्या मानकर चल रही है। डीएसपी का बताना है कि प्रॉपर्टी डीलिंग के काम को लेकर इन दिनों वे मानसिक रूप से परेशान चल रहे थे। हालांकि उनके पास से बरामद मोबाइल की काल डिटेल को खंगाला जा रहा है और पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत की सही वहज का खुलासा होने की बात भी पुलिस बता रही है।

पुलिस कई एंगल से मामले की छानबीन कर रही है। मृतक मनोज झा मुसरीघरारी थाना के मोरबा डीह गांव के रहने वाले थे। लेकिन समस्तीपुर शहर में भी एक मकान किराया पर लेकर प्रॉपर्टी डीलर का काम करते थे। चर्चा है की इसी कारोबार को लेकर उनकी अदावत कई लोगों से चल रही थी। और वे इसी बात से काफी परेशान भी चल रहे थे।

समस्तीपुर से रमेश की रिपोर्ट

Continue Reading

समस्तीपुर

नहीं थम रहा मॉब लिंचिंग, नाबालिग बच्चे की पिटाई

Published

on

समस्तीपुर : कोर्ट से सरकार को बार-बार फटकार लगाए जाने के बावजूद बिहार में मॉब लिंचिंग की घटनाएं नहीं थम रही है। ताजा मामला समस्तीपुर के चकमेहसी थाना अंतर्गत बख्तियारपुर गांव का है। जहां पैसा चोरी के आरोप में एक नाबालिग बच्चे को अमानवीय ढंग से एक पेड़ से रस्सी में लटकाकर बेरहमी से पिटाई किये जाने का विडिओ वायरल हुआ है।

पहले तो पुलिस ने यह कहकर अपना पल्ला झाड़ लिया कि थाने में जबतक कोई शख्स इस मामले में लिखित शिकायत नहीं करता वे कुछ नहीं कर सकते, लेकिन जब बात मिडिया के माध्यम से वरीय अधिकारीयों तक पहुंची तब पुलिस ने एक शख्स को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू किया है। पीड़ित किशोर राजकुमार पासवान के मुताबिक उसे एक दूकान से पैसा चोरी किये जाने का झूठा आरोप लगाकर कुछ लोगों ने रस्सी के सहारे हाथ बांधकर पेड़ से लटका दिया और छोटे बच्चे से ही खूब पिटाई करवाई।

वह बार बार इस बात से इंकार करता रहा कि उसने पैसे नहीं चुराए लेकिन उसे तब तक पीटा गया जबतक उसने पैसे देने की बात मान नहीं ली। डर के मारे पीड़ित नाबलिग और उसके घरवालों ने थाने में लिखित शिकायत नहीं की। हालाकिं पीड़ित के पिता ने बताया कि वे थाने गए थे मौखिक शिकायत के बाद पुलिसवाले गांव में भी आये थे लेकिन बिना कोई कार्रवाई किये वापस चले गए थे। लेकिन इस घटना का वीडियो वायरल हो गया और मीडियाकर्मियों तक पहुंचा।

पहले तो चकमेहसी थाना की पुलिस ने किसी तरह की कार्रवाई करने से अपने हाथ खड़े कर लिए परन्तु वरीय अधिकारीयों के निर्देश पर अब मामला दर्ज किया गया है और उस दुकानदार को हिरासत में लिया गया है। जिसने अपने दुकान से पैसे चुराने का आरोप उस बच्चे पर लगाया था। इस विडिओ से एक सवाल और उठने लगा है कि मोबलिंचिंग में शामिल लोग अब मासूम और नाबालिग बच्चों को भी इसकी ट्रेनिंग देने लगे हैं। इस पीड़ित बच्चे की पिटाई भी एक छोटे बच्चे से ही कराई जा रही है।

समस्तीपुर से रमेश की रिपोर्ट

Continue Reading

Trending

Copyright © 2019 All Rights Reserved to Ajaya Media and Telecommunication Pvt. Ltd.