पहले चरण के मतदान के ठीक पहले बड़ी वारदात टली, इमामगंज में प्लांट किए गए 3 आईईडी बम बरामद

पहले चरण के मतदान के ठीक पहले बड़ी वारदात टली, इमामगंज में प्लांट किए गए 3 आईईडी बम बरामद

गया में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले सुरक्षा बलों के नक्सलियों के मंसूबे पानी फेर दिया है। बड़ी वारदात को अंजाम देने के लिए प्लांट किए गए तीन आईईडी बम सुरक्षाबलों ने बरामद किया है। बाद में इन बमों को डिफ्यूज कर दिया गया। जिले के इमामगंज प्रखंड में नक्सलियों द्वारा प्लांट किए गए तीन आईईडी बम को डिफ्यूज कर सुरक्षाबलों ने नक्सलियों के नापाक मंसूबे पर पानी फेर दिया है।

ये आईडी बम जिले के इमामगंज थाना क्षेत्र के मंजरी से परसा चूंआ गांव जाने वाली और आंजन से मंजरी जाने वाली सड़क के किनारे मिले हैं। मौके पर स्थानीय पुलिस के साथ सीआरपीएफ और कोबरा की टीम पहुंच भी पहुंचकर जांच में जुटी है। फिलहाल आईईडी बम को सुरक्षाबलों ने डिफ्यूज कर दिया है।

एसएसपी राजीव मिश्रा ने बताया कि चुनाव को लेकर जिला पुलिस के साथ ही अर्धसैनिक बलों की टीम लगातार सर्च ऑपरेशन चला रही हैं। नक्सलियों के किसी भी साजिश को नाकाम करने के लिए जिले में पूरी मुस्तैदी है। इसी सिलसिले में आज 3 आईडी बम मिला है। जिसे नष्ट कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि नक्सली क्षेत्रों में लगातार सर्च अभियान किया जा रहा है।

ताकि चुनाव को किसी तरह से भी बाधित करने की नक्सलियों की कोशिश को नाकाम किया जा सके। गौरतलब है कि गया जिला के दस विधानसभा क्षेत्र में प्रथम चरण में 28 अक्टूबर को मतदान हो होगा। गया जिला का अधिकांश क्षेत्र नक्सल प्रभावित है और चुनाव के दौरान इन नक्सलियों से निपटने के लिए अर्धसैनिक बलों की कई कंपनियां तैनात की गई है।