आजमगढ़: पूर्व ग्राम प्रधान की गोली मारकर हत्या, तनाव के बाद पुलिसबल तैनात

एसपी सिटी नगर पंकज पांडेय ने बताया कि विजय ने आज ही एक जमीन ली थी. इसी के कागजात को लेकर वह अपने चाचा के साथ गांव के एक व्यक्ति के घर पर बैठा हुआ था.

आजमगढ़: पूर्व ग्राम प्रधान की गोली मारकर हत्या, तनाव के बाद पुलिसबल तैनात

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़  जिले में शनिवार देर रात रानी की सराय थाना क्षेत्र के अल्लीपुर गांव में सरकारी राशन की दुकान व चुनावी रंजिश के विवाद में पूर्व ग्राम प्रधान की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या  कर दी. पूर्व ग्राम प्रधान की हत्या के बाद गांव में तनाव व्याप्त हो गया. सूचना के बाद भारी पुलिस बल के साथ आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में लेने की कोशिश की. जिसके बाद ग्रामीणों ने हंगामा करना शुरू कर दिया. पुलिस ने इस घटना में दो महिलाओं समेत 4 लोगों को हिरासत में ले लिया है.

जानकारी के मुताबिक रानी की सराय थाना क्षेत्र के अल्लीपुर गांव निवासी राजेश यादव पूर्व में अपनी ग्राम सभा के प्रधान थे. इस बार उनकी भाभी ग्राम प्रधान है. गांव में सरकारी राशन की दुकान व चुनावी रंजिश को लेकर उनका गांव के ही कुछ लोगों से विवाद चल रहा था. इसी विवाद को लेकर शनिवार की देर रात राजेश अपने गांव के ही एक व्यक्ति के घर के बरामदे में बैठा हुआ था. इसी दौरान बदमाशों ने पूर्व ग्राम प्रधान राजेश यादव को गोली मार दी और फरार हो गए.

गोली लगने से पूर्व प्रधान लहूलुहान होकर नीचे गिर गए और उनकी मौत हो गई. पूर्व ग्राम प्रधान की मौत की सूचना के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए और गांव में तनाव व्याप्त हो गया. सूचना मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी पुलिसबल के साथ गांव में पहुंचे और पूर्व प्रधान के शव को अपने कब्जे में लेने का प्रयास किया. जिसका परिजनों और ग्रामीणों ने विरोध किया और हंगामा करना शुरू कर दिया. मौके पर पुलिस के आला अधिकारी परिजनों और ग्रामीणों को समझा बुझा कर शव को कब्जे में लेने का प्रयास कर रहे है.
एसपी सिटी नगर पंकज पांडेय ने बताया कि राजेश ने आज ही एक जमीन ली थी. इसी के कागजात को लेकर वह अपने चाचा के साथ गांव के एक व्यक्ति के घर पर बैठा हुआ था. उसी समय उसकी गोली मारकर हत्या कर दी गयी है. उन्होंने घटना का कारण पुरानी रंजिश बताया है.