सीसीएल में तीन दिवसीय हड़ताल-कमर्शियल माइनिंग को लेकर विरोध प्रदर्शन

सीसीएल में तीन दिवसीय हड़ताल-कमर्शियल माइनिंग को लेकर विरोध प्रदर्शन

झारखंड-रामगढ़ सीसीएल में तीन दिवसीय हड़ताल शुरू  किया गया है. यह हड़ताल कमर्शियल माइनिंग को लेकर ट्रेड यूनियन के लोगों के द्वारा किया जा रहा है. 2 जुलाई से लेकर 4 जुलाई तक ये हड़ताल जारी रहेगा.इस दौरान सीसीएल में किसी प्रकार का कोई उत्पादन ट्रांसपोर्टिंग माइनिंग नहीं होगी.वही लोगों का कहना है कि कमर्शियल माइनिंग किसी भी हाल में लागू करने नहीं दिया जाएगा. इसको लेकर सभी ट्रेड यूनियन के लोग सीसीएल के विभिन्न क्षेत्रों में तैनात रहेगे.वही बरका सयाल सीसीएल के इंटक के एरिया सेक्रेटरी राजू यादव ने कहा पूर्व की कांग्रेस सरकार जिस तरह से सीसीएल को चला रही थी वह बेहतर था. वर्तमान केंद्र सरकार सरकारी तंत्र को निजीकरण करना चाहती है जिसे हमलोग पूरे जोरदार तरीके से विरोध कर रहे हैं किसी भी हाल में कमर्शियल माइनिंग नहीं होने दिया जाएगा. आज सुबह से ही सीसीएल में सभी ट्रेड यूनियन के लोगों ने जोरदार तरीके से पूरे सीसीएल का काम को बंद कर दिया है. ट्रेड यूनियन के नेता सुबह से ही हाथों में बैनर तख्ते लेकर सरकार के विरोध जमकर नारेबादी कर रहे है.वही पूरे सीसीएल के कोरोड़ों के उत्पादन का नुकसान हुआ है.