EXCLUSIVE :पूर्व DGP पर बहु का आरोप, पति है गे, ससुर डीके पांडेय ने कहा था-मुझसे बना लो संबंध (FULL STORY) )

पुलिस ने ससुर डीके पांडेय, सास पूनम पांडेय और पति शुभांकर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. इस मामले में पुलिस का कहना है कि जो भी आरोप लगाये गये हैं उसकी जांच की जाएगी और उसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी FIR DETAILS शनिवार को रेखा मिश्रा ने महिला थाना में मामला दर्ज कराया

EXCLUSIVE :पूर्व DGP पर बहु का आरोप, पति है गे, ससुर डीके पांडेय ने कहा था-मुझसे बना लो संबंध (FULL STORY) )

JHARKHAND DESK : झारखंड राज्य में ये पहली घटना है कि किसी मोस्ट सीनियर ब्यूरोक्रेट पर इतने गंभीर आरोप लगे हों. आरोप लगाने वाला और कोई नहीं बल्कि उनकी एकलौती बहु है. डीजीपी डीके पांडेय के ऊपर उनकी बहू ने गंभीर आरोप लगाये हैं. डीके पांडेय की बहू रेखा मिश्रा का आरोप है की उसके पति गे हैं. इतना ही नहीं उनकी बहु रेखा ने खुद डीके पांडेय पर आरोप लगाया है कि उसके ससुर उसके साथ अवैध शारीरिक संबंध बनाना चाहते थे. बात यहीं नहीं रुकती है बहु का आरोप है कि डीके पांडेय बहु रेखा को दूसरों के साथ संबंध बनाने के लिए मजबूर भी किया करते थे.

इसको लेकर बहू रेखा मिश्रा ने शनिवार को महिला थाना में FIR दर्ज कराई है. पुलिस ने ससुर डीके पांडेय, सास पूनम पांडेय और पति शुभांकर के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. इस मामले में पुलिस का कहना है कि जो भी आरोप लगाये गये हैं उसकी जांच की जाएगी और उसके बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी FIR DETAILS शनिवार को रेखा मिश्रा ने महिला थाना में मामला दर्ज कराया. दर्ज कराये गये शिकायत में कहा गया है कि 15 फरवरी 2016 को हिंदू रीति-रिवाज के अनुसार रांची में मेरी शादी शुभांकर के साथ हुई थी. शादी के बाद हमलोग जमशेदपुर के बिस्टुपुर इलाके में रहने लगे. शादी के दूसरे दिन ही मुझे पता चला कि मेरे पति शुभांकर गे कैरेक्टर के हैं. वो मुझसे ना तो शारीरिक संबंध बनाना चाहते थे और ना ही किसी तरह का वैवाहिक संबंध रखना चाहते थे. मैंने इस बात की जानकारी अपने सास और ससुर दोनों को दी. उन्होंने किसी तरह का कोई ठोस जवाब ना देते हुए मुझसे कहा कि उनके बेटे को मेडिकल प्रॉब्लम है. जो चेकअप के बाद ठीक हो जाएगा. सास-ससुर के इस झूठे दिलासे पर मैं तीन सालों तक इंतजार करती रही. मुझे आशा थी कि शायद मेरे पति के बिहेवियर में बदलाव आए. लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

मैं तब और परेशना हो गयी जब मेरे सास और ससुर ने ही मुझे किसी और से संबंध बनाने को कहा. उनका कहना था कि मैं वैवाहिक सुख के लिए किसी और से संबंध बना लूं. यहां तक कि एक समारोह के दौरान जब मैं अकेली थी तो मेरे ससुर डीके पांडेय ने अपने साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए मुझे कहा. शुभांकर में समलैंगिकता के लक्षण बढ़ते जा रहे थे. वह मुझसे मिलना और बात तक करना पसंद नहीं करता था. वो किसी से बात नहीं करता था. सास पूनम पांडेय इस बात पर जोर देती थी कि मैं अपने एनजीओ पर ध्यान दूं. और उसी में बिजी रहूं. सास ऐसा इसलिए कहती थी ताकि मैं अपने पति शुभांकर से दूर रह सकूं. डीके पांडेय की बहू रेखा मिश्रा का आरोप है कि शादी के बाद से ही सास, ससुर और पति दहेज की मांग को लेकर मानसिक रूप से प्रताड़ित करते थे. विरोध करने पर धमकी दी जाती थी. आखिरकार इन सभी चीजों से थक कर वो अपने पिता के घर यानी अपना मायका लौट आयीं.