कोरोना के लद गए दिन... वैक्सीन पर अच्छी खबर,.. 10 अगस्त तक आ सकता है टीका

कोरोना के लद गए दिन... वैक्सीन पर अच्छी खबर,.. 10 अगस्त तक आ सकता है टीका
कोरोना के लद गए दिन... वैक्सीन पर अच्छी खबर,.. 10 अगस्त तक आ सकता है टीका
कोरोना के लद गए दिन... वैक्सीन पर अच्छी खबर,.. 10 अगस्त तक आ सकता है टीका
कोरोना के लद गए दिन... वैक्सीन पर अच्छी खबर,.. 10 अगस्त तक आ सकता है टीका
कोरोना के लद गए दिन... वैक्सीन पर अच्छी खबर,.. 10 अगस्त तक आ सकता है टीका
कोरोना के लद गए दिन... वैक्सीन पर अच्छी खबर,.. 10 अगस्त तक आ सकता है टीका
कोरोना के लद गए दिन... वैक्सीन पर अच्छी खबर,.. 10 अगस्त तक आ सकता है टीका

कोरोना वायरस ने दुनियाभर में तबाही मचा रखी है। करोड़ों लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं जबकि छह लाख से भी ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। इसका वैक्सीन बनाने को लेकर दुनियाभर में कुल 23 परियोजनाओं पर काम चल रहा है, जिसमें से कुछ के ट्रायल अंतिम चरण में हैं।

हालांकि इस बीच वैक्सीन को लेकर रूस से अच्छी खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि यह देश जल्द ही वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी दे सकता है। सीएनएन की एक रिपोर्ट के मुताबिक, वैज्ञानिक 10 अगस्त या उससे पहले ही वैक्सीन की मंजूरी के लिए तेजी से काम कर रहे हैं।

बता दें कि रूस की इस वैक्सीन को मॉस्को के गमलेया इंस्टीट्यूट ने विकसित किया है। आइए जानते हैं इस वैक्सीन को लेकर ताजा जानकारी और साथ ही यह भी जानते हैं कि यह किस तरह के लोगों को सबसे पहले मिलेगी 

रिपोर्ट के मुताबिक, रूसी अधिकारियों ने बताया कि वैक्सीन को सार्वजनिक उपयोग के लिए मंजूरी दी जाएगी, लेकिन सबसे पहले यह फ्रंटलाइन हेल्थकेयर वर्कर्स यानी सीधे तौर पर कोरोना संक्रमित लोगों की सेवा करने वाले स्वास्थ्य कर्मचारियों को दी जाएगी।  

हालांकि रूस ने आधिकारिक तौर पर वैक्सीन के ट्रायल से संबंधित कोई जानकारी साझा नहीं की है। इस वजह से फिलहाल यह कहना मुश्किल है कि यह वैक्सीन कितनी कारगर होगी। कुछ लोगों का मानना है कि जल्दी से वैक्सीन को बाजार में उपलब्ध कराने को लेकर राजनीतिक दबाव है, ताकि रूस की वैज्ञानिक शक्ति को दुनिया के सामने रखा जा सके।